Rape के 23 दिन बाद 7 साल की लड़की का Murder, इंसाफ के बदले मिली लाठियां

Crime
इलाहाबाद. यहां एक 7 साल की मासूम की रेप और 23 दिन बाद घर से उठाकर हत्‍या करने का मामला सामने आया है। यही नहीं परिजनों की सहमति के बिना पुलिस ने जबरन उसका शव दफन कर दिया। परिजनों के हंगामा करने पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर उन्‍हें वहां से भगा दिया।(तीसरी स्‍लाइड में देखि‍ए वीडि‍यो।)
– मामला इलाहाबाद के मऊआइमा थाना क्षेत्र का है।
– बीते 5 जून को 7 साल की मासूम पड़ोस में जानवरों को चारा खिलाने गई थी।
– आरोप है कि इसी दौरान गांव के ही युवक अनिल कुमार गुप्ता ने उससे रेप किया।
– खून से लथपथ घर पहुंच मासूम ने परिजनों को आपबीती सुनाई।
पुलिस ने की समझौता कराने की कोशि‍श
– इसके बाद परिजन पीड़‍ित को लेकर थाने पहुंचे।
– आरोप है कि यहां थाना इंचार्ज विजय कुमार ने दोनों पक्षों का समझौता कराने की कोशिश की।
– जब बात नहीं बनी तो पुलिस ने 3 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया।
– 28 जून को पीड़‍ित का मेडिकल कराया गया, लेकिन रिपोर्ट में कुछ क्लियर नहीं हो पाया।
– इसलिए 29 जून को पीड़‍िता का दोबारा से मेडिकल कराया जाना था।
जुर्म छि‍पाने के लिए मासूम को उतारा मौत के घाट
– 28 जून की रात करीब 2 बजे आरोपी के पिता और उसके घर के कुछ लोग लड़की के घर पहुंचे।
– लड़की और मां को उठा कर ले जाने लगे, लेकिन मां के शोर मचाने पर उसे छोड़कर लड़की को ले भागे।
– लड़की की मां ने पुलिस कंट्रोल रूप 100 नंबर पर पुलिस को सूचना दी।
– 29 की सुबह करीब 6 बजे लड़की का शव घर से 150 मीटर की दूरी पर खेत में मिला।
– लड़की की धारदार हथियार से गोदकर हत्‍या की गई थी।
– मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया।
– साथ ही मामले को गंभीरता से लेते हुए दबिश देकर 3 आरोपियों को रात में ही गिरफ्तार कर लिया।
दिनभर शव के इंतजार में बैठे रहे परिजन
– लड़की के घर वाले दिन भर शव के इंतजार में बैठे रहे।
– जब उन्हें पता चला की पुलिस खुद लड़की को दफनाने की फि‍राक में है तो घरवाले डीएम ऑफि‍स पहुंचे और धरने पर बैठ गए।
– उनकी मांग थी कि लड़की के पिता के आने तक बच्ची का अंतिम संस्कार न किया जाए, क्‍योंकि लड़की का पिता गुजरात में नौकरी करता है और वो रस्ते में है।
– शाम करीब 5 बजे लोगों को पता चला कि पुलिस बच्ची का शव लेकर फाफामऊ के शमशान घाट पहुंच चुकी है और गंगा के किनारे शव को दफनाया जा रहा है।
– घरवाले भागकर शमशान पहुंचे और शव को पुलिसवालों से छीन लिया और अधिकारि‍यों से गुहार लगाई कि लड़की के पिता को लड़की के मुहं देखे बिना शव को दफनाया न जाए।
– लेकिन, पुलिस ने परिजनों की एक न सुनी और लाठीचार्ज कर सभी को शमशान घाट से भगा दिया और शव को दफन कर दिया।
– शमशान घाट पर लाठीचार्ज के बाद अफरा-तफरी मच गई, लोग भागने लगे। इस दौरान कई लोग घायल भी हो गए।
पुलिस का क्‍या है कहना
– गंगापार एसपी अशोक कुमार का कहना है कि बच्‍ची के साथ रेप हुआ था।
– मेडिकल में कोई पुष्टि होती इसके पहले आरोपियों ने उसकी हत्‍या कर दी।
– पुलिस घटना में शामिल 4 अन्‍य लोगों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।

Leave a Reply