PAK को आतंकी देश घोषित करने के लिए US में मुहिम, ऑनलाइन पिटीशन को रिकॉर्ड सपोर्ट

International
वॉशिंगटन. उड़ी में आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान को आतंकी देश करार देने के लिए अमेरिका में रहने वाले भारतीयों ने भी मुहिम छेड़ रखी है। इन लोगों ने एक पिटीशन कैम्पेन शुरू किया है, जिसमें 1 लाख सिग्नेचर करवाने का टारगेट था। इसे पांच गुना रिकॉर्ड सपोर्ट मिला है। यह आंकड़ा ओबामा एडमिनिस्ट्रेशन का ध्यान खींचने के लिए जरूरी आंकड़े से पांच गुना ज्यादा है। हाल ही में रिपब्लिकन सांसद टेड पो भी अमेरिकी पार्लियामेंट में पाक को आतंकी देश करार देने के लिए बिल ला चुके हैं। कब शुरू की गई थी ये कैम्पेन…
– ये ऑनलाइन पिटीशन 21 सितंबर से शुरू की गई है। इसमें कहा गया है कि अमेरिका और भारत समेत दुनिया के कई देश पाक स्पॉन्सर आतंकवाद से प्रभावित हैं।
– ओबामा एडमिनिस्ट्रेशन को इस पर विचार करने के लिए कम से कम एक लाख सिग्नेचर की जरूरत थी। यह आंकड़ा पांच गुना ज्यादा हो गया है।
– व्हाइट हाउस की वेबसाइट ने बाकायदा भारतीय अमेरिकियों के लिए एक विंडो मुहैया कराई है।
किसने लगाई थी पिटीशन
– अपना नाम आरजी (RG) बताने वाले एक शख्स ने यह ऑनलाइन पिटीशन 21 सितंबर को दायर की थी।
– वाइट हाउस से रिस्पॉन्स के लिए इस पर 30 दिनों में एक लाख हस्ताक्षर की जरूरत थी।
– याचिका ने यह आंकड़ा एक हफ्ते से भी कम वक्त में छू लिया।
लोगों ने कहा हम रुकेंगे नहीं, मिला अच्छा रेस्पांस
– इससे जुड़ीं जॉर्जटाउन यूनिवर्सिटी की साइंटिस्ट अंजु प्रीत ने लिखा, ‘जब तक हमें 10 लाख सिग्नेचर नहीं मिल जाते, हम नहीं रुकेंगे। अब कार्रवाई का वक्त आ गया है। आओ हम सब पिटीशन पर सिग्नेचर के लिए हाथ मिलाएं। कम से कम अपने 10 दोस्तों और फैमिली के लोगों को टैग करें।”
हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव में पहले ही लाया जा चुका है बिल
– हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव में रिपब्लिकन सांसद टेड पो ने एक अन्य सांसद डाना रोहराबेकर के साथ ‘पाकिस्तान स्टेट स्पॉन्सर ऑफ टेररिज्म डेजिग्नेशन एक्ट (HR 6069)’ पेश किया था। पो हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव में टेररिज्म पर बनी सब कमेटी के चेयरमैन भी हैं।
– पो के मुताबिक, “अब वक्त आ गया है कि हम पाकिस्तान को उसकी दुश्मनी निकालने के लिए पैसा देना बंद कर दें। उसे वह घोषित कर देना चाहिए जो वो है।”
– पो ने ये भी कहा था, “पाकिस्तान एक ऐसा सहयोगी है, जिस पर भरोसा नहीं किया जा सकता। वह कई सालों से अमेरिका के दुश्मनों को मदद दे रहा है।”
– पो ने साफ शब्दों में कहा था, “मैं भारत में कश्मीर में आर्मी बेस पर हुए हमले की कड़े शब्दों में निंदा करता हूं। इस हमले में भारत के 18 जवान शहीद हो गए। भारत हमारा एक करीबी सहयोगी है।”

Leave a Reply