US ने रोकी थी 4500 करोड़ की मदद, PAK ने कहा-अब जॉर्डन से खरीदेंगे फाइटर जेट

International
इस्लामाबाद.पाकिस्तान ने अमेरिका से आठ एफ-16 फाइटर जेट्स लेने का चैप्टर बंद कर दिया है। अब वो जॉर्डन से फाइटर जेट खरीदेगा। फॉरेन सेक्रेटरी एजाज चौधरी का ये बयान उस वक्त आया है, जब पाकिस्तान में हुए अमेरिकी ड्रोन हमले को लेकर दोनों देशों के बीच खींचतान चल रही है। साथ ही, अमेरिका ने फाइटर जेट्स की खरीद में 4500 करोड़ रुपए की रियायत देने से इनकार कर दिया है। चीन से दोस्ती को लेकर नाराज है अमेरिका…
– चौधरी ने सोमवार को कहा, “अमेरिका पाकिस्तान के फैसले से सैटिसफाइड दिख रहा है।”
– “पाकिस्तान अमेरिका से एफ-16 फाइटर जेट नहीं खरीदेगा। अब जॉर्डन से फाइटर जेट खरीदने की कोशिश की जाएगी।”
– उन्होंने कहा- “अमेरिका के साथ रिश्तों में तनाव की अहम वजह पाक की चीन से दोस्ती है।”
– “पाकिस्तान संप्रभुता जैसे कुछ मुद्दों पर अमेरिका के साथ सहयोग नहीं कर सकता है।”
– उन्होंने कहा कि अमेरिका के साथ तनावपूर्ण रिश्ते पाकिस्तान के लिए कोई नई बात नहीं है।
– चौधरी ने टेरर के खिलाफ वॉर पर अमेरिका की पॉलिसी की आलोचना की और कहा, ”यूएस ने आतंक पर लड़ाई लड़ने में 16 साल बिताए हैं।”
– ”अमेरिका ने अगर सिर्फ छह साल पीस प्रॉसेस के लिए दिए होते तो हालात कुछ और होते।”
क्यों कैंसल हो गई डील?
– अमेरिका ने फाइटर जेट्स के लिए पाक को सब्सिडी देने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद डील कैंसल हुई।
– फाइटर जेट्स की 70 करोड़ डॉलर की डील में पाकिस्तान को पहले सिर्फ 27 करोड़ डॉलर देने थे।
– बाकी के 43 करोड़ डॉलर यानी 4500 करोड़ रुपए यूएस अपनी तरफ से ग्रांट में दे रहा था।
– सांसदों के दबाव के बाद ओबामा एडमिनिस्ट्रेशन ने पाकिस्तान की सब्सिडी रोकते हुए पूरा पेमेंट करने को कहा।
– पाकिस्तान की हालत ऐसी नहीं थी कि वह जेट्स के लिए पूरा पेमेंट कर पाता।
– रिपोर्ट के मुताबिक, डील के लिए दिया गया ऑफर 24 मई तक ही था। पाकिस्तान को इस दौरान लेटर ऑफ एक्सेप्टेंस (खरीद की मंजूरी) अमेरिका को देना था।
– पाकिस्तान ये लेटर वक्त रहते नहीं दे पाया और इसके साथ ही यह डील भी कैंसल हो गई।
– पाकिस्तान के एक डिप्लोमैटिक सोर्स ने भी डील कैंसल होने की बात कन्फर्म की थी।
सरताज अजीज ने पहले हीदी थी धमकी
– जब पाकिस्तान को ये लगने लगा था कि अमेरिका से ये डील नहीं हो पाएगी तो उसने नया रुख अपनाया था।
– विदेशी मामलों के एडवाइजर सरताज अजीज ने कहा था- “अगर अमेरिका से एफ-16 नहीं मिलते हैं, तो हम किसी दूसरे देश से इसी तरह के फाइटर जेट्स खरीद सकते हैं।”
– उनके डिफेंस मिनिस्टर ख्वाजा आसिफ ने भी यही बात कही थी।

Leave a Reply