2000 करोड़ की ड्रग्स के केस में पुलिस ने ममता कुलकर्णी को बनाया आरोपी

National
मुंबई.ठाणे पुलिस ने शनिवार को साफ कर दिया कि दो हजार करोड़ रुपए के ड्रग्स रैकेट केस में बॉलीवुड एक्ट्रेस रहीं ममता कुलकर्णी अपने कथित पति विकी गोस्वामी के साथ आरोपी हैं। पुलिस ने कहा कि ममता के खिलाफ गिरफ्तार आरोपियों ने बयान दिए हैं। कुछ सबूत भी पुलिस के पास हैं। अब इंटरपोल से रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने की मांग की जाएगी।
– ममता और उनके कथित पति विकी गोस्वामी सहित 10 लोगों के खिलाफ अप्रैल में ड्रग्स स्मगलिंग का केस दर्ज किया गया था।
– इंटरनेशनल मार्केट में बरामद ड्रग कंसाइनमेंट की कीमत करीब 2 हजार करोड़ रुपए बताई गई थी।
– विकी गोस्वामी खुद को ममता का पति बताता है लेकिन ममता ने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि उन्होंने विकी से शादी नहीं की है।
– विकी को पिछले महीने केन्या पुलिस ने गिरफ्तार किया था और वो फिलहाल जेल में है।
– खास बात ये है कि अप्रैल में जब विकी को केन्या में गिरफ्तार किया गया था, उसी दौरान मुंबई पुलिस ने सोलापुर में एक ड्रग फैक्ट्री का पर्दाफाश किया था।
केन्या पुलिस की कस्टडी में और कौन
– केन्या में गिरफ्तार किए गए चार लोगों में बकताश अकाशा भी शामिल है। उसे केन्या का सबसे बदनाम ड्रग माफिया माना जाता है।
– एक और ड्रग तस्कर इब्राहिम अकाशा का बेटा भी गिरफ्तार किया गया है। इब्राहिम की मौत हो चुकी है।
– केन्या की कोर्ट ने विकी को बकताश अकाशा का खास मददगार बताया है।
किन फिल्मों में दिखीं थीं ममता कुलकर्णी?
– ममता करीब 10 साल से लाइमलाइट से दूर हैं।
– उन्होंने ‘घातक’, ‘करण अर्जुन’ और ‘बाजी’ जैसी कई बॉलीवुड फिल्‍मों में काम किया है।
– ममता ने स्पिरिचुअलिज्म पर ‘ऑटोबायोग्राफी ऑफ एन योगिन’ नाम की एक किताब लिखी है।
सोलापुर में क्या हुआ था?
– सोलापुर में एक फैक्ट्री से 20 टन एफेड्रीन ड्रग बरामद की थी। इस ड्रग की खरीद और बिक्री भारत में बैन है।
– ठाणे पुलिस के मुताबिक, भारत, पोलेंड और दूसरे यूरोपियन देशों की गैंग कन्साइंनमेंट को मुंबई से गुजरात के रास्ते ईस्टर्न यूरोप भेजने की प्लॉनिंग कर रही थी।
ममता पर शक क्यों?
– ठाणे पुलिस के मुताबिक- यह इंटरनेशनल रैकेट है और विकी गोस्वामी उसका मुख्य सरगना है। इसी वजह से हम ममता कुलकर्णी के रोल की भी जांच की गई थी।
– पुलिस के मुताबिक – अमेरिका की ड्रग इन्फोर्समेंट एजेंसी (डीईए) ने विकी के ऑपरेशन की जानकारी दी थी जिसमें वह प्राइम सस्पेक्ट था।
– जांच में पता चला कि ममता को इस रैकेट के फेस के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है।
– इंटरपोल अलर्ट के बाद विकी केन्या से बाहर नहीं निकल सकता है। इसलिए वह ममता को दुबई, सिंगापुर, साउथ अफ्रीका और यूएस में क्लाइंट से मिलने के लिए कहता था।
– ममता महाराष्ट्र में ड्रग नेटवर्क के साथ बिजनेस डील भी करती थी। इसके अलावा विकी पैसो के लेनदेन के लिए ममता के बैंक अकाउंट का इस्तेमाल भी करता था।
– ये कपल हवाला के जरिए ड्रग डील का पैसा दूसरे देशों में भेजता था।
कौन है विकी गोस्वामी?
– विकी का ड्रग क्राइम में लंबा इतिहास रहा है।
– उसे 1997 में दुबई में ड्रग की स्मगलिंग में अरेस्ट किया गया था। यहां उसे 15 साल की सजा हुई थी।
– उसके बाद वह ममता के साथ केन्या की राजधानी नैरोबी रहने चला गया था। केन्या में भी इस पर कई केस चल रहे हैं।
– यूएस और ठाणे पुलिस को भी विकी की ड्रग स्मगलिंग में तलाश है।

Leave a Reply