BMC ने कहा- कपिल के ऑफिस ही नहीं, गोरेगांव के अपार्टमेंट में भी अवैध कंस्ट्रक्शन

Entertainment
मुंबई.अपने ऑफिस के लिए रिश्वत देने की बात कहकर कपिल शर्मा खुद ही उलझते दिख रहे हैं। बृह्नमुंबई म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन (BMC) ने शनिवार को दावा किया कि कपिल ने न सिर्फ वरसोवा में ऑफिस बनाने में नियम तोड़े, बल्कि गोरेगांव में अपना अपार्टमेंट बनाने में भी नियमाें की अनदेखी की। बता दें कि कपिल ने शुक्रवार को सीधे नरेंद्र मोदी को टैग कर ट्वीट किया था, ”क्या मुझे ऑफिस बनाने के लिए बीएमसी को 5 लाख की घूस देनी होगी, ये हैं आपके अच्छे दिन?” बीएमसी ने क्या कहा…
– एक न्यूज एजेंसी की खबर के मुताबिक, बीएमसी के एक अफसर ने कहा कि हमें कपिल शर्मा के वरसोवा और गोरेगांव स्थित प्रिमाइसेस में अवैध कंस्ट्रक्शन की दो अलग-अलग शिकायतें मिली हैं। हमने तय प्रोसेस के तहत कार्रवाई करने से पहले नोटिस जारी करते हैं। अपार्टमेंट के मामले में भी नोटिस जारी हुआ है।
– कपिल का अपार्टमेंट गोरेगांव की एक बिल्डिंग में 9th फ्लोर पर है, जिसके खिलाफ शिकायत आई है।
– शिकायत पर बीएमसी महाराष्ट्र रीजनल एंड टाउन प्लानिंग एक्ट के तहत कपिल को नोटिस जारी कर चुका है।
वरसोवा में कपिल के ऑफिस के बारे में बीएमसी ने क्या कहा?
– बीएमसी ने कहा कि कपिल ने वरसोवा में अपने दफ्तर में दूसरी मंजिल पर अवैध कंस्ट्रक्शन किया था। इसे रोकने के लिए उन्हें 16 जुलाई को नोटिस जारी किया गया था। इसके बावजूद कंस्ट्रक्शन जारी रहा। इसके चलते 4 अगस्त को बीएमसी ने ढांचा गिरा दिया।
– बीएमसी ने यह ढांचा गिराने में 19 दिन क्यों लगाए, इस सवाल पर असिस्टेंट म्यूनिसिपल कमिश्नर पराग मसूरकर ने कहा कि हमने ऑनलाइन ट्रैकिंग सिस्टम बना रखा है। शिकायतें मिलने पर हम साइट पर जाकर फोटो खींचते हैं। इसी के बेस पर नोटिस जारी होता है। इसीलिए वक्त लगता है। हम आमतौर पर ओनर को परमिशन से जुड़े डॉक्युमेंट्स दिखाने के लिए वक्त देते हैं। उनके जवाब का इंतजार करते हैं। ऑनलाइन प्रोसेस के कारण करप्शन का सवाल ही नहीं है।
– न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, कपिल का वरसोवा में ग्राउंड प्लस वन स्टोरी रो हाउस में ऑफिस है। कपिल ने वहां ऑफिस का दायरा बढ़ा लिया था। ऊपरी मंजिल पर भी बिना मंजूरी कंस्ट्रक्शन कर लिया था। बीएमसी के मुताबिक, कपिल अपने कंस्ट्रक्शन के सपोर्ट में डॉक्युमेंट नहीं दिखा पाए। इसलिए उनके ऑफिस का एक हिस्सा तोड़ा गया था।

क्यों विवादों में आए थे कपिल?
– कपिल ने शुक्रवार सुबह दो ट्वीट में मोदी को टैग करके लिखा- “मैं पिछले पांच साल से 15 करोड़ रुपए टैक्स भर रहा हूं। लेकिन मुझे ऑफिस बनाने के लिए बीएमसी को 5 लाख की घूस देनी होगी। ये हैं आपके अच्छे दिन?’
– कपिल के ट्वीट के बाद सीएम फड़णवीस ने ट्वीट किया। कहा- “कपिल भाई पूरी जानकारी दो। एमसी, बीएमसी को सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। हम दोषी को नहीं छोड़ेंगे।”
– कपिल के ट्वीट कुछ ही देर में वायरल हो गए। बीजेपी, शिवसेना के साथ कांग्रेस भी इस मामले में कूद पड़ी। बीएमसी ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि कपिल उस शख्स का नाम बताएं, जिसने उनसे रिश्वत मांगी है।
– विवाद होता देख कपिल ने मामले को संभालने की कोशिश की। नए ट्वीट में लिखा- ‘मैंने कुछ लोगों के करप्शन को लेकर सिर्फ अपनी चिंता जताई थी, किसी पॉलिटिकल पार्टी- बीजेपी, एमएनएस या शिवसेना को दोषी नहीं ठहराया है।’
– सीएम के ट्वीट के जवाब में कपिल ने फिर ट्वीट कर कहा- ‘थैंक यू सो मच सर…मैं आपसे मिलकर इस मुद्दे पर चर्चा करना पसंद करूंगा।’

Leave a Reply