दुबई में मौत के मुंह में फंसे हैं 4 इंडि‍यन, पीड़ि‍तों ने सुनाई आपबीती

Uncategorized
वाराणसी. मऊ जिले के उम्मनपुर गांव की चार जिंदगियां पैसे कमाने के चक्‍कर में दुबई में मौत के मुंह मे फंसी हैं। इनके परिवार वाले मंगलवार को यहां के सांसद और देश के पीएम नरेंद्र मोदी के जनसंपर्क कार्यालय में लिखित जानकारी (रि‍क्‍वेस्‍ट लेटर) देने पहुंचे। उनके साथ आप नेता भी थे। अधि‍कारि‍यों ने लेटर लेने से मना कर दि‍या। इसके बाद पीड़ि‍त धरने पर बैठ गए। आप नेता ने कहा कि‍ ये लेटर और वीडि‍यो सुषमा स्‍वराज को भेजेंंगे। कौन कब से फंसा है…
मऊ जि‍ले के 4 लोग फंसे हैं
– सूर्यनाथ (1 साल)
– रामलाल (2 साल)
– उदयभान (8 महीना)
– राकेश (8 महीना)
पीड़ि‍तों ने वीडि‍यो में क्‍या कहा
– दुबई में फंसे सूर्यनाथ ने वहां फंसे लोगों का वीडियो वॉट्सएप पर परिजनों को भेजा है।
– लोगों ने वीडि‍यो में बताया है कि एम्बेसी भी मदद नहीं कर रही है।
– करीब 50 हार्ट पेसेंट हैं, जिन्हें दवाई तक नहीं दी जा रही।
– मालि‍क ने पासपोर्ट रख लिया है। 6 महीने से सैलरी नहीं मि‍ली।
सूर्यनाथ के पि‍ता ने क्‍या कहा
– सूर्यनाथ के पिता मोहन ने बताया कि‍ बि‍ल्‍डिंग कंस्‍ट्रक्‍शन कंपनी ‘साद ग्रुप’ में पाकिस्तान, बांग्लादेश और भारत के करीब 1400 से अधि‍क लोग फंसे हैं।
– उन्‍हें न तो सैलरी मि‍ल रही है और न ही खाना। बमुश्किल कई दिनों पर खाना दिया जाता है।
राकेश की मां ने क्‍या कहा
– राधिका ने बताया कि‍ महीनों पहले उनके बेटे राकेश का फोन आया था।
– उसने बताया कि‍ एक टाइम खाना मिलता है। – मुश्किल से सोने को मिलता है।
– बीमार पड़ने पर दवाई का पैसा भी नहीं देते।
– फोन में बैलेंस नहीं है कि‍ घर बात कर पाएं।
– जानकारी मि‍लने पर गांव से उसको कुछ पैसा भेजा था, पता नहीं मिला कि‍ नहीं।
– राकेश के पिता मोहन ने बताया कि‍ बेटे ने किसी तरह से सामूहिक वीडियो बनाकर कुछ दिनों पहले भेजा।
– इसका मकसद यह है कि‍ हम यहां इसे सरकार तक पहुंचा पाएं और उन्‍हें मदद मि‍ले।
आप नेता ने क्‍या कहा
– आप के पूर्वांचल संयोजक संजीव सिंह ने बताया कि‍ दुबई में फंसे सूर्यनाथ से उनकी खुद फोन पर बात हुई है।
– वहां के हालात ठीक नहीं हैं। पूर्वांचल के 200 से ज्यादा लोग फंसे हैं, जिनका पासपोर्ट कंपनी ने रख लिया है।
– बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन कंपनी ‘साद ग्रुप’ अपने यहां काम देने को कहकर उत्पीड़न कर रही है।
मोदी के जनसंपर्क ऑफि‍स ने नहीं लि‍या लेटर
– मोदी के जनसंपर्क कार्यालय में अधि‍कारि‍यों ने लेटर लेने से इनकार कर दिया।
– आप नेता ने कहा कि‍ यहां के माध्‍यम से हम दुबई से भेजे गए वीडि‍यो की कॉपी पीएमओ और विदेश मंत्रालय को भेजना चाहते थे। अब यह वीडि‍यो और लेटर वि‍देश मंत्री सुषमा स्‍वराज को भेजा जाएगा।

Leave a Reply