मायावती को BJP नेता ने बोला अपशब्दः पार्टी ने 24 घंटे में पद से हटाया, BSP चीफ बोलीं- अपनी बहन-बेटी को कहा होगा

National
नई दिल्ली. यूपी में बीजेपी के वाइस-प्रेसिडेंट दयाशंकर सिंह ने मायावती को अपशब्द कहा है। इसे लेकर बुधवार को संसद में जमकर हंगामा हुआ। वहीं, मायावती ने राज्यसभा में दी रिएक्शन में कहा- ”मुझे नहीं बताया गया है कि उसने (बीजेपी नेता) क्या बोला है? लेकिन उसने मेरे बारे में नहीं, अपनी मां-बहन-बेटी के बारे में ऐसा बोला है। देश और दलित वर्ग के लोग माफ नहीं करेंगे।” बीजेपी ने विवाद बढ़ने के बाद दयाशंकर को पार्टी वाइस-प्रेसिडेंट की पोस्ट से हटा दिया। वहीं, बीएसपी उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की सोच रही है।
– दयाशंकर सिंह ने कहा, ”मायावती का वजूद खत्म हो रहा है। कांशीराम जी ने जो सपना देखा था, उसको मायावतीजी चूर-चूर कर रही हैं।”
– ”आज टिकटों की इस तरह से बिक्री कर रही हैं, जैसे एक **** पुरुषों के साथ डील करती है।”
– ”तीन-तीन बार की मुख्यमंत्री किसी को एक करोड़ में टिकट देती हैं, एक घंटे बाद कोई दो करोड़ देता है तो उसे भी दे देती हैं। शाम को कोई तीन करोड़ देता है तो उसकाे टिकट दे देती हैं। एक **** तो कम से कम पैसा पाने के बाद अपना वादा पूरा करती है।”
– ”**** से भी बदतर चरित्र की मायावती जी हो गई हैं। लोकसभा में एक भी सीट नहीं मिली थी। विधानसभा में भी इसका खामियाजा भुगतना होगा।”
मायावती ने कहा- बीजेपी एक्शन ले, नहीं तो जो होगा उसकी जिम्मेदार मैं नहीं
– राज्यसभा में मायावती ने कहा, ”जो पूंजीवादी मानसिकता के लोग हैं, उनको ये अच्छा नहीं लग रहा है। जब मेरा जन्मदिन होता है 15 जनवरी को, बहुजन समाज के लोग इसे आर्थिक दिवस मनाते हैं। मुझे गहने, सोने-चांदी मत दो। पार्टी को आर्थिक सहयोग दो।”
– ”यूपी में चुनाव के लिए कुछ समय बचा है। लेकिन वहां बीजेपी है। उसे ये अच्छा नहीं लग रहा है। इसलिए पार्टी के उपाध्यक्ष हैं, वे ऐसा लफ्ज बोल रहे हैं।”
– ”मेरे खिलाफ जो भाषा का इस्तेमाल किया है, मैं नहीं जानती। मुझे नहीं बताया गया। लेकिन कुछ खराब ही होगा, जिसके कारण मेरे सहयोगी नेता मुझे कुछ नहीं बता रहे हैं।”
– ”लेकिन मेरा यही कहना है कि दलित वर्ग की बेटी चार बार सीएम रही है। मैं लोकसभा, राज्यसभा में रही। मेरा अब तक का रिकॉर्ड ठीक रहा है।”
– ”आज तक मैंने अपने भाषण में छोटे-बड़े किसी भी नेता को अपशब्द नहीं बोला।”
– ”विचारों की लड़ाई होती है। विचारधारा को लेकर प्रहार किया। कैरेक्टर पर किसी को कुछ नहीं बोला। पूरा देश इस बात से अवगत है। लोग कहते हैं कि मुझे बोलना चाहिए।”
– ”जिसने बोला है, उन्होंने मुझे नहीं, अपनी बहन-बेटी के बारे में बोला है। देश और दलित वर्ग के लोग माफ नहीं करेंगे।”
– “बीजेपी उस नेता के खिलाफ एक्शन ले, नहीं तो जो होगा, उसकी जिम्मेदार मैं नहीं।”
दयाशंकर ने मांगी माफी
– मंगलवार को मऊ में मायावती के खिलाफ अपशब्द कहने वाले दयाशंकर ने माफी मांग ली है।
– उन्होंने कहा, ”मैं क्षमा चाहता हूं। मैं मायावतीजी और उनके समर्थकों से क्षमा मांगता हूं।”
– ”मेरी गिरफ्तारी से अगर उन्हें अच्छा लगता है तो मैं अरेस्ट होने के लिए भी तैयार हूं।”
– ”मैं टिकट को लेकर चर्चा कर रहा था। मैंने गलती से ये तुलना कर दी।”
– बता दें कि इस मुद्दे पर जब विवाद बढ़ा तो राज्यसभा में बीजेपी की ओर से अरुण जेटली ने माफी मांगी।

Leave a Reply